यूपी के सभी मॉल बंद, लखनऊ, नोएडा और कानपुर शहर को सेनिटाइज करने का आदेश - Ideal India News

Post Top Ad

यूपी के सभी मॉल बंद, लखनऊ, नोएडा और कानपुर शहर को सेनिटाइज करने का आदेश

Share This
#IIN
Dr. Shahank Shekhar Mishra
लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लोगों से अपील की है कि कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए पूरी सावधानी बरतना आवश्यक है। केंद्र सरकार और राज्य सरकार के प्रबंधों के क्रियान्वयन में जन सहयोग की भी बहुत बड़ी भूमिका है। सीएम योगी ने लखनऊ, नोएडा और कानपुर शहर को सेनिटाइज किए जाने व नगर विकास विभाग द्वारा शहरी इलाकों में नियमित फॉगिंग की व्यवस्था सुनिश्चित किए जाने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने प्रदेश के सभी मॉल को बंद करने का भी आदेश दिया है। प्रदेश स्थित हवाई अड्डों, रेलवे स्टेशनों तथा बस अड्डों सहित राज्य की सीमा पर सघन चेकिंग सुनिश्चित करने के तथा मॉल्स को बन्द करने के भी निर्देश हैं। वैवाहिक कार्यक्रमों में आमंत्रितों की संख्या, 10 तक सीमित रखने का प्रयास हो। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हवाई अड्डों, रेलवे स्टेशनों और बस अड्डों सहित राज्य की सीमा पर सघन चेकिंग सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं। सभी प्रकार के सामाजिक, सांस्कृतिक एवं मांगलिक कार्यक्रमों को स्थगित करने और मॉल्स को बंद करने के भी निर्देश हैं। उन्होंने धर्माचार्यों और धर्मगुरुओं से कोरोना वायरस के नियंत्रण के लिए समाज में जागरूकता फैलाने और सभी धार्मिक, आध्यात्मिक, सामाजिक, सांस्कृतिक और मांगलिक गतिविधियों व कार्यक्रमों को दो अप्रैल, 2020 तक स्थगित करने की अपील की है। उन्होंने कहा कि वैवाहिक कार्यक्रमों में आमंत्रितों की संख्या 10 तक सीमित रखने का प्रयास हो। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने निर्देश दिए हैं कि स्कूलों तथा कॉलेजों के प्रिंसिपल तथा प्रबंधन यह सुनिश्चित करें कि दो अप्रैल, 2020 तक शिक्षक और नॉन-टीचिंग स्टाफ भी विद्यालय नहीं आएंगे। उन्होंने कहा कि प्रदेश में खाद्यान्न सहित रोजमर्रा के इस्तेमाल की सामग्री की पर्याप्त उपलब्धता है। सभी जिलाधिकारी यह सुनिश्चित करें कि आवश्यक वस्तुओं की जमाखोरी और कालाबाजारी न होने पाए। ऐसा करने वालों के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की जाए।मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने निर्देश दिए हैं कि तहसील दिवस, समाधान दिवस, आरोग्य मेला और जनता दर्शन का आयोजन दो अप्रैल, 2020 तक स्थगित रहेगा। सरकारी अस्पतालों को निर्देश दिये गए हैं कि केवल आकस्मिक सेवाएं प्रदान की जाएं। गैर जरूरी ओपीडी और जांचें 31 मार्च तक स्थगित रखी जाएं, जिससे अस्पतालों में अनावश्यक भीड़ ना हो। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि निजी क्षेत्र के संस्थानों एवं नियोक्ताओं को इस हेतु प्रेरित किया जाए कि जहां तक सम्भव हो कर्मचारियों को घर से कार्य करने की अनुमति दी जाए। इस व्यवस्था को सरकारी विभागों एवं संस्थानों में भी आवश्यकतानुसार लागू कराया जाए। यह भी सुनिश्चित किया जाए कि खरीदारी के दौरान लाइनें न लगें। कोरोना से बचाव के लिए ग्लव्स और मास्क का इस्तेमाल किया जाए। पुलिस को पूरे प्रदेश में व्यापक पेट्रोलिंग करने के निर्देश देते हुए कहा है कि 5 से 7 लोग से अधिक कहीं इकट्ठा न हों।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad