वाराणसी में सड़कों पर पसरा सन्नाटा, प्रमुख चौराहों व घाटों में लोगों की संख्‍या घटी - Ideal India News

Post Top Ad

वाराणसी में सड़कों पर पसरा सन्नाटा, प्रमुख चौराहों व घाटों में लोगों की संख्‍या घटी

Share This
#IIN
Pintu Kundu 
वाराणसी। कोरोना वायरस से बचाव को लेकर पीएम नरेंद्र मोदी की अपील के बाद शनिवार को शहर में व्यापक असर दिखा। सुबह नौ बजे ऑफिस जाने के समय जब सड़कों पर सबसे ज्यादा भीड़ रहती है, शनिवार को सन्नाटा मॉल जहां हर समय लोगों की भीड़ रहती थी, सुनसान दिखे। जनता को जिन चौराहों पर रोजाना ट्रैफिक की समस्या झेलनी पड़ती है और ट्रैफिक कर्मियों को जाम खुलवाने में पसीने छूट जाते हैं। उन जगहों पर शनिवार को ट्रैफिक की समस्या नजर नहीं आई। कचहरी चौराहा, अंधरापुल, चौकाघाट, लहरतारा समेत कई जगहों पर लोग आसानी से आ व जा रहे थे। वहीं कोरोना वायरस के प्रति जागरूकता के लिए अधिकतर सरकारी कार्यालय से लेकर निजी कंपनियों के चैंबर तक में पोस्टर लगे हैं। घर से काम के कारण ऑफिस में कर्मचारियों की संख्या कम दिखी। उधर, सड़कों पर अधिकतर शहरवासी मास्क लगा कर चल रहे हैं। कोरोना वायरस से बचने के लिए अब अधिकतर शहरवासी मास्क पहनकर ही घूम रहे हैं। फिर चाहे बच्चे हों या फिर बुजुर्ग। एहतियात के तौर पर हर कोई मास्क पहनकर कोरोना से खुद को सुरक्षित रखने की जुगत में लगा हुआ है। बीएचयू कैंपस अब लगभग पूरी तरह से छात्रों से खाली हो चुका है। कर्मचारी और प्रोफेसर अपने आवासों में सोशल डिस्टेंसिंग का बखूबी पालन कर रहे हैं। अपने घरों से वह बाहर निकलने से बच रहे हैं। खुद को आइसोलेट कर कई प्रोफेसर आम लोगों तक जनता कफ्र्यू और कोरोना के प्रकोप से बचने के लिए जागरुकता के संदेश भी यूट्यूब और सोशल मीडिया के सहारे भेजवा रहे हैं। इसके अलावा ट्विटर पर बीएचयू के कई कर्मचारी हैंडवाश चैलेंज हैशटैग लगा कर हाथ धुलने की वीडियोज साझा किया साथ ही दूसरों को टैग व नामिनेट करते हुए इस कार्य को आगे बढ़ाने का संकल्प लिया गया। इसके अलावा बीएचयू के आधिकारिक पेज से भी लोगों को जागरुक करने का सिलसिला दिन भर जारी रहा।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad