16 शहरों में 3 दिन का लॉकडाउन शुरू - Ideal India News

Post Top Ad

16 शहरों में 3 दिन का लॉकडाउन शुरू

Share This
#IIN
Dr. Shahank Shekhar Mishra
लखनऊ। चीन से फैले कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने की खातिर देश व्यापी जनता कर्फ्यू के बाद उत्तर प्रदेश के 16 जिलों में तीन दिन का लॉकडाउन शुरू हो गया है। सोमवार से शुरू लॉक डाउन बुधवार तक रहेगा। सीएम योगी आदित्यनाथ ने इसको लेकर खुद मोर्चा संभाल लिया है। 16 जिलों के सभी आलाअधिकारियों को उन्होंने स्पष्ट निर्देश दिया कि लॉक डाउन के दौरान बल प्रयोग नहीं होगा। सोमवार को लखनऊ में लॉक डाउन का उल्लंघन करने पर 20 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है। ये सभी मामले सरोजनीनगर, कृष्णानगर और बंथरा थाने में दर्ज किये गए हैं। भारत में कोरोना वायरस के संक्रमण के मामले बढ़ते ही जा रहे हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय के ताजा अपडेट के मुताबिक भारत में कोरोना वायरस के पॉजिटिव मामलों की संख्या 415 हो गई है। वहीं, भारत में कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या 7 हो गई है। भारत में राज्य सरकारों ने कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए लॉकडाउन की घोषणा की है।जनता कर्फ्यू के बेहद सफल प्रयोग के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश के लोगों को कोरोना वायरस से बचाव के लिए एहतियातन बड़ा कदम उठाते हुए 16 जिलों में 25 मार्च तक लॉकडाउन घोषित कर दिया। इसको लेकर रविवार रात को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से संबंधित जिलों के लिए निर्देश जारी कर दिए गए हैं। सीएम योगी आदित्यनाथ ने लॉकडाउन का फैसला उन सभी सोलह जिलों के लिए किया है, जहां-जहां कोरोना वायरस से संक्रमित मरीज पाए गए हैं। इन सभी जिलों में 25 मार्च तक लॉकडाउन रहेगा। इसके तहत सामान्य आवागमन, सार्वजनिक गतिविधियां पूरी तरह प्रतिबंधित रहेंगी। वहीं, आवश्यक सेवाएं बहाल रहेंगी।योगी आदित्यनाथ ने कोरोना वायरस के कारण 16 जिलों में लॉकडाउन किए जाने के संबंध में जिलाधिकारियों को लॉकडाउन को सही तरीके से लागू करने को लेकर निर्देश दिया और कहा कि सहयोग नहीं करने वालों को समझाया जाना चाहिए। मुख्यमंत्री आदित्यनाथ ने अधिकारियों को यह निर्देश दिया कि जिन जिलों में लॉकडाउन लगाया गया है वहां पर किसी तरह का बल प्रयोग नहीं किया जाए। त्योहारी सीजन शुरू हो रहा है और कोरोना वायरस के बीच धार्मिक आयोजनों के बारे में मुख्यमंत्री ने जिला प्रशासन को धर्मगुरुओं से मदद लेने का निर्देश दिया। उन्होंने यह भी सुनिश्चित करने को कहा कि मंदिरों में ज्यादा भीड़ एकत्र न हो।आदित्यनाथ ने हिदायत दी कि राशन की दुकानों में जहां राशन मिलता है वहां पर सेनेटाइजर जरुर रखे जाएं। साथ में किसी भी दुकान पर 10 से ज्यादा लोग एकत्र न हों। मुख्यमंत्री आदित्यनाथ ने साफ किया कि जिन जिलों में लॉकडाउन है वहां पर कोषागार खुले रहेंगे। लॉकडाउन के दौरान किसी तरह का बल प्रयोग नहीं किया जाए और ऐसे लोगों को समझा कर लॉकडाउन पर अमल कराया जाए।लॉकडाउन घोषित किये गए प्रदेश के 16 जिलों में 23 से 25 मार्च तक आवश्यक सेवाओं को छोड़कर सभी सरकारी कार्यालय, शैक्षणिक संस्थान, अर्धसरकारी उपक्रम, स्वायत्तशासी संस्थाएं, राजकीय निगम बंद रहेंगे। सभी दुकानें, व्यापारिक प्रतिष्ठान, निजी कार्यालय, मॉल, कारखाने, वर्कशॉप, गोदाम बंद रहेंगे। सार्वजनिक परिवहन (रोडवेज, सिटी बस, निजी बसें, टैक्सी, ऑटो रिक्शा, आदि) प्रतिबंधित रहेगा। रविवार देर रात मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने सरकारी आवास पर अधिकारियों के साथ वीडियो कान्फ्रेंसिंग में यह निर्देश दिए। इस बाबत शासनादेश भी जारी हो गया। लखनऊ, अलीगढ़, गौतमबुद्ध नगर (नोएडा), कानपुर, वाराणसी, मेरठ, आजमगढ़, गाजियाबाद, गोरखपुर, लखीमपुर खीरी, आगरा, प्रयागराज, सहारनपुर, बरेली, पीलीभीत और मुरादाबाद।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad