बैंक कैशियर अनिल मौर्य को आखिर किसने और क्यों गोली मारी यही चर्चा - Ideal India News

Post Top Ad

बैंक कैशियर अनिल मौर्य को आखिर किसने और क्यों गोली मारी यही चर्चा

Share This
#IIN
Santosh Agarhari and  Vijay Agarwal 
जौनपुर। बैंक कैशियर अनिल मौर्य को आखिर किसने और क्यों गोली मारी यही चर्चा शुक्रवार को दिनभर लोगों की जुबान पर रही। इस पहेली को सुलझाने के लिए पुलिस दिनभर सीसीटीवी फुटेज खंगालती रही। बदमाशों की तलाश में कई जगह छापेमारी भी की लेकिन सफलता नहीं मिली।  यूनियन बैंक लालाबाजार शाखा के कैशियर अनिल मौर्य गुरुवार की शाम कामकाज निपटाने के बाद बाइक से घर उमरपुर (रुहट्टा) जा रहे थे। रास्ते में जौनपुर-रायबरेली राष्ट्रीय राज्यमार्ग पर बक्शा व सिकरारा थाना के बार्डर पर स्थित डीह जहानियां गांव के मोड़ के पास बाइक सवार बदमाशों ने पीछे से पीठ में गोली मार दी थी। उनका इलाज वाराणसी में चल रहा है। घटना के बाद मौके पर घंटों सीमा विवाद के बाद अपर पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर देररात प्रभारी निरीक्षक सिकरारा विनय प्रकाश सिंह ने भुक्तभोगी की तहरीर पर दो अज्ञात के खिलाफ हत्या के प्रयास का मुकदमा दर्ज कर लिया। शुक्रवार को पूरे दिन बदमाशों की तलाश में पुलिस लाला बाजार से लेकर फतेहगंज बाजार तक सड़क किनारे की दुकानों व पेट्रोल पंपों पर लगे सीसीटीवी कैमरों के फुटेज खंगालती रही। घायल कैशियर ने तहरीर में घटनास्थल डीह जहानियां गांव दिखाया है जो बक्शा थाने का इलाका है।
 मालूम हो कि दोनों थानों की पुलिस घटना के बाद देर रात तक सीमा विवाद में उलझी रही। विवाद सुलझाने को घटनास्थल के आस-पास के गांवों के प्रधानों व लेखपालों को भी मौके पर बुलाया गया। मौके पर गिरे कारतूस के खोखा को बख्शा पुलिस ईंट से घेरकर करीब चार घंटे तक खड़ी रही। पुलिस ने घायल बैंक कर्मी से अस्पताल व बैंक जाकर मैनेजर से भी पूछताछ की।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad