मनरेगा मजदूरों का प्रदर्शन - Ideal India News

Post Top Ad

मनरेगा मजदूरों का प्रदर्शन

Share This
#IIN
DurgeshKumar Mishra and Govind Upadhyay
आजमगढ़ : बजट में सभी वर्गों का ध्यान दिया गया लेकिन मनरेगा मजदूरों का हाथ खाली ही रह गया। उनकी मजदूरी बढ़ाने के लिए कोई घोषणा नहीं की गई जिसके चलते परिवार चलाना मुश्किल हो गया है। क्षेत्र के मुबारकपुर गांव में युधिष्ठिर पट्टी के जाब कार्ड धारकों ने सोमवार को केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए प्रदर्शन किया। कहा कि केंद्र सरकार ने जो बजट पेश किया है उसमें कहीं भी मजदूरों के ऊपर ध्यान नहीं दिया गया। योजना के अंतर्गत देश में काम कर रहे करोड़ों मजदूर 182 रुपये की मजदूरी से परिवार का भरण-पोषण करने को मजबूर हैं। वर्षों से चली आ रही मांग को केंद्र सरकार ने अनसुना कर दिया। काफी दिनों से मजदूर मांग कर रहे थे कि मजदूरी कम से कम 400 रुपये की जाए ताकि परिवार का ठीक से भरण-पोषण कर सकें, क्योंकि महंगाई चरम पर है और सरकार महंगाई रोकने में भी असफल है। उसके बाद भी हमारी मांगों पर ध्यान नहीं दिया गया, जबकि 2020 के आम बजट में उम्मीद थी कि उचित मजदूरी का एलान किया जाएगा लेकिन मजदूरों की उम्मीदों पर पानी फिर गया। मजदूरों का नेतृत्व कर रहे जिला पंचायत सदस्य त्रिलोकीनाथ ने कहा कि कि अगर सरकार ने मजदूरी को नहीं बढ़ाया तो सीपीआइ संघर्ष करेगी। प्रदर्शन में सीता देवी, दीनदयाल, राजेश कुमार, दयाराम, बासमती, शकुंतला, शारदा देवी, सरस्वती, सुनीता आदि रहीं।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad