4 नाबालिग को ताऊ ने घर से भगाया - Ideal India News

Post Top Ad

4 नाबालिग को ताऊ ने घर से भगाया

Share This
#IIN
Amar Bahadur Tripathi 
सुलतानपुर : इस भाग्य की विडंबना कहें या कुदरत का क्रूर मजाक.। नियति ने पहले तो मां-बाप को छीना और अब दाने-दाने को मोहताज कर दिया। रही सही कसर सगे ताऊ ने पूरी कर दी। सभी चार नाबालिगों को घर से रविवार की रात भगा दिया। बच्चों ने खुले आसमान के नीचे ठिठुरते हुए रात गुजारी। इसकी जानकारी जब डीएम तक पहुंची तो उन्होंने मामले में जांच के आदेश दिए हैं। कोतवाली देहात के ज्ञानीपुर गांव निवासी सराफत उल्ला अमेठी जिले के सरकारी विद्यालय में मौलवी के पद पर कार्यरत थे। शिक्षक पिता अमेठी के महमूदपुर में अपनी पत्नी आरा बानो तथा बच्चों के साथ रहते थे। तीन साल पहले मां आरा की तथा कुछ दिन पहले शिक्षक सराफत उल्ला की मौत हो गयी। जिसके बाद ननिहाल में रह रहे तीन पुत्री हुस्न आरा, नाहिद बानो, रोशन आरा तथा पुत्र मो.खलिद रविवार को अपने पैतृक घर ज्ञानीपुर पहुंचे। चारों बच्चों को ताऊ रियासत उल्ला ने घर में घुसने नहीं दिया और भगा दिया। इन बच्चो ने घर के सामने ही खुले आसमान के नीचे बैठकर रात गुजारी। सुबह मामला जिलाधिकारी के सामने पहुंचा तो उन्होंने तत्काल उपजिलाधिकारी लंभुआ विधेश कुमार और सीओ लंभुआ विजयमल यादव को बुलाकर जांचकर तत्का

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad